अदरक के औषधीय गुण तथा अदरक खाने के फायदे।

अदरक के औषधीय गुण तथा अदरक खाने के फायदे।

अदरक का इस्तेमाल बहुत सालो से हमारे पूर्वज भी करते आ रहे हैं क्योकि अदरक खाने के फायदे बहूत होते है। यह हमारे खाने में स्वाद ही नही बढ़ाता बल्कि अदरक के औषधीय गुण भी होते है।अदरक को जिंजिबर ऑफिसिनेल के नाम से भी जाना जाता है। यह जमीन के अंदर उगाया जाता है इसका कोई बीज नही होता बल्कि अदरक के टुकड़े को ही काट कर जमीन में लगाया जाता है। इसकी खेती मई के महीने में की जाती है।

भारत मे यह उत्तरप्रदेश, बिहार, पंजाब, चेन्नई, बंगाल में पाया जाता हैं।अदरक को एक मसाले के रूप में भी प्रयोग किया जाता है।अदरक के प्रयोग से बहुत सी बीमारियों को भी खत्म किया जा सकता है तथा अदरक स्वाद में तीखी होती है। अब हम बात करेंगे अदरक खाने के फायदे के बारे में।

अदरक खाने के फायदे

  • खाँसी जुखाम में अदरक खाने के फायदे

अदरक का प्रयोग खाँसी जुखाम में किया जाता हैं। खाँसी होने पर अदरक को कसकर उसे छलनी में रखकर उसका रस निकालकर एक चम्मच शहद मिलाकर लेने से खाँसी में आराम हो जाता है या उस रस में हल्दी व थोड़ा गर्म पानी मिलाकर पीने से खाँसी ठीक हो जाती है। खासी जुखाम में अदरक के औषधीय गुण के कारण काफी फायदेमंद होता है।

  • पाचन शक्ति ठीक करने के लिए अदरक के फायदे

अदरक का प्रयोग पाचन शक्ति बढ़ाने में भी किया जाता है।अदरक के रस में एंटीऑक्सीडेंट होता हैं जो पेट में बढ़ने वाली वसा को कम करता है। पेट मे गैस बनना, बदहजमी, जी मिचलाना जैसे रोगों के लिए भी अदरक का प्रयोग किया जाता है। दस्त जैसी बीमारियों के लिए भी अदरक का प्रयोग किया जाता हैं।

  • जोड़ो के दर्द के उपचार के लिए अदरक खाने के फायदे

जोड़ो में दर्द होने पर अदरक का पेस्ट बनाकर लगभग 2 महीने तक लेने से जोड़ो में आराम होने लगता हैं।अदरक के तेल से घुटनों पर मालिश करने से भी घुटनो में आराम मिलता हैं।अदरक में जिंजरिक पदार्थ पाया जाता है जो अपने औषधीय गुण के कारण बहुत ही असरदार होता हैं।

  • माइग्रेन के दर्द में सहायक अदरक के फायदे

अदरक को माइग्रेन के दर्द में भी प्रयोग किया जा सकता है।माइग्रेन के दर्द शुरू होते ही अगर एक कप अदरक वाली चाय पी ली जाय तो माइग्रेन में आराम हो सकता है। अगर चाय नही पीते हैं तो अदरक के रस को पी लेने से भी आराम हो जाता है।

  • कैंसर बीमारी मे अदरक के फायदे

कैंसर जैसी बीमारी में भी अदरक का प्रयोग किया जाता हैं।यह कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को मारकर खत्म करने में सहायक है। आयुर्वेद के अनुसार अदरक को अगर रोजाना चाय या खाने में शामिल करने से कैंसर को खत्म करने में सहायता मिलती है।

  • डायबिटीज की रोकथाम में अदरक खाने के फायदे

डायबिटीज के रोगियों को अदरक का प्रयोग करना चाहिए।अदरक खून में में शुगर कंट्रोल करता है तथा भूख को भी नियंत्रित करता है।डायबिटीज के रोगी अगर रोजाना 2 बार अदरक वाली चाय कम चीनी के साथ पीए तो डायबिटीज में आराम मिलेगा।

  • त्वचा के लिए अदरक के फायदे

अदरक का प्रयोग त्वचा के लिए भी किया जाता है इसे चाय ,सब्जी व इसका रस निकाल कर प्रयोग किया जाये तो यह काफी असरदार होता हैं।इससे स्किन साफ होती है।अदरक में एंटीऑक्सीडेंट होता हैं जो त्वचा के लिए अत्यंत लाभदायी माना जाता है।

अदरक

  • पेट के अलसर में अदरक में फायदे

अदरक पेट मे होने वाले घाव को खत्म करने में सहायक है।अल्सर एच पिलोरी बेक्टीरिया के कारण होता है इसलिए अदरक के प्रयोग से इसे रोका जा सकता है।अल्सर की बीमारी के कारण शरीर को बहुत नुकसान पहुचता है।

यह भी पढ़े

ग्रीन टी बनाने की विधि तथा ग्रीन टी के फायदे

अभी हमने हमारे शरीर मे अदरक खाने से होने वाले फायदों के बारे में पढ़ा।अदरक में बहुत से विटामिन होते हैं जैसे विटामिन सी।बहुत सी आयुर्वेदिक दवाओं में भी अदरक का प्रयोग किया जाता हैं अदरक से दिल से जुड़े बहुत से रोग ठीक हो जाते है।डी. एन.ए के नष्ट होने पर भी अदरक का प्रयोग किया जाता हैं। अदरक में औषधीय गुण होने के अलावा यह हमारे खाने को भी सुस्वादु बना देता है।

ऊपर हमने अदरक के फायदों के बारे में पढ़ा अब हम इसका प्रयोग कैसे करे इस बारे में पढगे:

अदरक का प्रयोग

  • चाय में अदरक का प्रयोग

अदरक को चाय में कूट कर या कस कर डाल सकते है जिससे चाय में अदरक का रस मिल जाता हैं।

  • सब्जी में अदरक का प्रयोग

सब्जी में अदरक को लहुसन के साथ पीस कर या कूट कर डाल सकते हैं जिससे अदरक सब्जी में मिला जाता हैं और जब हम सब्जी को खाते हैं तो अदरक का रस हमारे अंदर चला जाता है।

  • चटनी में अदरक का प्रयोग

हमारे देश मे विभिन्न प्रकार की चटनी बनाई जाती है जैसे टमाटर की चटनी, लहुसन की चटनी आदि में अदरक डाल कर इसका प्रयोग कर सकते हैं।

अदरक की जानकारी

  • जूस में अदरक का प्रयोग

अदरक का जूस निकाल कर भी हम अदरक का प्रयोग कर सकते हैं। गाजर या चुकन्दर का जूस बनाते समय अगर अदरक को जूस में डाल दे तो अदरक का जूस भी उसमे मिल जाता हैं।

  • अदरक के तेल का प्रयोग

घुटनो में दर्द रहने पर अदरक का तेल निकाल कर लगाने से बहुत फायदा मिलता हैं।अगर कमर में दर्द हो तो अदरक का तेल लगाने से भी आराम मिलता हैं।

  • अचार में अदरक का प्रयोग

अदरक का अचार डालकर प्रयोग किया जाए तो बहुत फायदेमंद होता हैं जो कैंसर जैसी बीमारियों में प्रयोग किया जाता हैं।

अदरक का प्रयोग हम अनेक प्रकार से कर सकते हैं जिससे बहुत सी बीमारियों से बचा जा सका हैं।अदरक को ताजा व सूखा दोनो प्रकार से प्रयोग किया जा सकता है यह एक बहुत ही उपयोगी औषधि है। सर्दियों में अदरक को दूध में डालकर पीने से सर्दी से बचा जा सकता हैं। दांत के दर्द में अदरक के छोटे टुकड़े को दांत के नीचे रखने से आराम मिलता हैं।अदरक को गर्मियों में कम प्रयोग करना चाहिए क्योंकि यह बहुत गरम होता है जिससे मुँह में छाले आदि हो सकते हैं।

यह भी पढ़े

चाय के प्रकार तथा चाय बनाने की विधि

अदरक में बहुत सारे औषधीय गुण होने के कारण अदरक हमारे खाने का अभिन्न अंग बन गया है तथा सभी को सीमित मात्रा में अदरक का प्रयोग अपने खान पान में करना चाहिए।

अदरक के नुकसान

  • पेट मे समस्या

अदरक की ज्यादा मात्रा लेने से पेट मे एसिडिटी होने लगती है व कलेजे में जलन शुरू हो जाती हैं जिससे पेट मे दिक्कते हो सकती हैं।

  • मासिकधर्म में समस्या

    ज्यादा अदरक की चाय से औरतों में मासिक धर्म की समस्या हो सकती है।जिससे ज्यादा ब्लीडिंग हो सकती हैं और उनको पेट दर्द जैसी समस्या हो सकती है।

  • नींद में कमी होना

    अदरक की अधिक मात्रा लेने से नींद नही आती है और नींद न आने के कारण कई बीमारी हो जाती है जैसे-चक्कर आना,चिड़चिड़ापन होना,सिर दर्द होना।

  • अदरक के नुकसान
  • दिल पर असर

    अदरक की ज्यादा मात्रा लेने पर दिल पर बुरा असर पड़ता है इससे बी.पी नियंत्रण नही रहता और यह घटता बढ़ता रहता हैं और हार्ट अटैक का खतरा हो जाता है।

  • दस्त लगना

    अदरक को ज्यादा लेने से दस्त भी हो सकते हैं यह बहुत गर्म होता हैं जो की मांसपेशियों को एक्टिवेट कर देता हैं।

हर एक चीज़ की मात्रा सीमित होती हैं इसी प्रकार अदरक को भी ठीक प्रकार से प्रयोग में लाया जाए तो यह एक औषधि के रूप में कार्य करती हैं लेकिन इसे जरूरत से ज्यादा प्रयोग किया गया तो इससे नुकसान भी हो सकते हैं।

Leave a Reply

Close Menu